SB News

Barmer Students Protest: बाड़मेर में उग्र हुआ छात्रों का प्रदर्शन, गाड़ियों में तोड़फोड़ के बाद पुलिस ने छोड़े आंसू गैस के गोले व किया लाठीचार्ज

 | 
Students Protest In Barmer

Protest In PG College Barmer: बाड़मेर पीजी कॉलेज के वार्षिक प्रोग्राम में निर्दलीय विधायक और छात्र संगठन को नहीं बुलाने से स्टूडेंट्स का गुस्सा फूट गया। गेट के बाहर धरना दे दिया। वहीं कॉलेज प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस दौरान छात्रों का प्रदर्शन और उग्र हो गया और पुलिस को लाठीचार्ज के बाद आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े. मौके पर कोतवाली थानाधिकारी गंगाराम बिश्नोई के नेतृत्व में भारी पुलिस बल डिप्लॉय किया गया है. मिली सुचना के अनुसार लाठीचार्ज के बाद एक छात्र को मामूली चोट भी आई है.

 

 

स्टूडेंट्स की मांग है कि स्थानीय विधायक और एनएसयूआई संगठन को नहीं बुलाकर कॉलेज प्रशासन राजनीति कर रहा है। हमारी मांग है कि प्रोग्राम स्थगित कर नए डेट घोषित कर सभी को बुलाया जाए। वहीं मंत्री के. के. विश्नोई से मांग है कि हमारी मंत्री और बीजेपी विधायकों का कोई विरोध नहीं है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, बाड़मेर प्रशासन द्वारा पिछले 2 बड़े जिला स्तरीय कार्यक्रमों  में स्थानीय विधायक होने के बावजूद प्रियंका चौधरी को इग्नोर किया जा रहा है. इस बात से उनके समर्थक काफी खफा बताए जा रहे है.


दरअसल, पीजी कॉलेज की ओर से हर साल आयोजित होने वाले वार्षिक प्रोग्राम आज रविवार को आयोजित होने वाला है। इस आयोजन में राज्य मंत्री के.के. विश्नोई, चौहटन विधायक आदूराम मेघवाल और भाजपा जिलाध्यक्ष दिलीप पालीवाल को बुलाया गया है। स्टूडेंट्स का आरोप है कि स्थानीय बाड़मेर विधायक को राजनीतिक द्वेष भावना से नहीं बुलाया गया है। वहीं छात्र संगठनों को नहीं बुलाया है।

स्टूडेंट् भानाराम चौधरी का कहना है कि कॉलेज प्रशासन ने वार्षिक समारोह का आयोजन किया गया है लेकिन इसमें स्थानीय विधायक को दरकिनार कर दिया गया है। वहीं एनएसयूआई के पदाधिकारियों की अनदेखी की गई है। आज के आयोजन का विरोध प्रदर्शन है। हमारी मांग है कि नई डेट तय करके स्थानीय विधायक और अन्य छात्र सगंठनों को बुलाया जाए। आज का कार्यक्रम होने नहीं देंगे जब तक हमारी मांगे नहीं मानी जाएगी। हम धरने पर बैठे है और हमारा धरना भी जारी रहेगा।

एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष रायचंद चौधरी के मुताबिक हमारे कॉलेज में वार्षिक समारोह है यह बहुत ही खुशी की बात है। मनमानी कर रही आयोजत कमेटी के विरोध में प्रदर्शन है। राज्य मंत्री के.के. विश्रोई और विधायक आ रहे है। इसका हमें कोई विरोध नहीं है। एक विशेष एबीवीपी संगठन के लोगों को बुलाया जा रहा है। हमारी यहां की स्थानीय विधायक डॉ. प्रियंका चौधरी को नहीं बुलाया गया है। आरोप लगाया कि एक संगठन के लोगों को बुला रहे हो यह कोई एक संगठन की कॉलेज नहीं है।

WhatsApp Group Join Now
google news Follow On Google News Follow us