SB News

Wine Price: शराब के शौकीनों को खुश कर देगी ये खबर, 500 वाली बोतल मिलेगी अब महज 100 रूपए में

: शराब के शौकीनों के लिए बड़ी खबर है. दरअसल, अब 500 रूपए वाली शराब की बोतल 100 रुपए में मिल सकती है.जानिए कैसे मिलेगी 500 रूपए वाली शराब महज 100 रूपए में..

 | 
Wine

SB News Digital Desk, नई दिल्ली: Wine Price: शराब के शौकीनों को खुश कर देगी ये खबर, 500 वाली बोतल मिलेगी अब महज 100 रूपए में, सरकार ने शराब के दाम कम कर दिये है। अब कई ब्राडेंड शराब के दाम के कम हो गये। शराबियो के लिए खुशखबरी , ब्रांडेड बोतल के भाव में भारी कमी, अब मिलेगी आधी रेट में बोतल ,अगर आपको भी शराब पीने का काफी शौकंन है

तो आपके लिए अच्छी खबर है. अब आपको ब्राडेंड शराब केवल 100 रुपए में मिल रही है. आइए जानते है कहां से इस ब्राडेंड शराब को खरीद सकते है और कितनी मात्रा में मिल रही है, जानिए पूरी जानकारी

आजकल कोई भी सेलिब्रेशन ड्रिंक के बिना पूरा नहीं होता. अध‍िकांश लोग इसका आनंद उठाते हैं. तमाम लोग इसका मजा लेने के लिए रेस्‍टोरेंट भी जाते हैं. पर वहां एल्‍कोहल की कीमत तो काफी ज्‍यादा होती है.

दिल्‍ली जैसे शहरों में बड़ी संख्‍या में लोग हरियाणा तक चले जाते हैं ताकि उन्‍हें सस्‍ती शराब मिल पाए. कई बार लोग इसल‍िए ड्रिंक नहीं ले पाते क्‍योंकि वह काफी महंगी होती है.

 
पर अगर आपको ब्रांडेड बोतल मात्र 100-100 रुपये में मिल जाए. आप कहेंगे हो जाएगी बल्‍ले-बल्‍ले. पर रुकिए. यह आपके लिए नहीं है.

दरअसल, अनंत (@AnantNoFilter)नाम के एक ट्विटर यूजर ने नेवी ऑफिसर्स के मेस से मेन्यू की तस्वीर शेयर की है. इसमें व्हिस्की और बीयर के कई ब्रांड बेहद कम कीमतों पर मिल रहे हैं.

अधिकांश ड्रिंक की कीमत 100 रुपये से कम है. मेन्‍यूकार्ड शेयर करते हुए उन्‍होंने कैप्‍शन लिखा, मेरा बैंगलोर वाला दिमाग इन कीमतों को समझ नहीं सकता.

इतनी सस्‍ती शराब देखकर यूजर्स चौंक गए. कई लोगों ने मजाकिया अंदाज में कमेंट भी किए.
 

 


खास रियायत देती सरकार
बता दें कि आर्मी के जवानों को सरकार कई सामानों पर खास रियायत देती है. सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी से छूट दी जाती है. इन्‍हीं से एक शराब की महंगी बोतलें भी हैं.

 
यही वजह है कि मिलिट्री कैंटीन में शराब और किराने का सामान कम से कम 10-15% सस्ता मिलता है. कैंटीन में शराब, इलेक्ट्रॉनिक्स और अन्य सामान को सैनिकों,

पूर्व सैनिकों और उनके परिवारों को रियायती कीमतों पर बेचा जाता है. इन कैंटीन्स में सालाना करीब 2 अरब डॉलर से अधिक मूल्‍य की बिक्री होती है.

 

यह देश की सबसे बड़ी रिटेल चेन में से एक है. हालांकि, बीते दिनों सरकार ने विदेशी सामान न रखने के आदेश दिए थे.

1.15 लाख बार देखा गया

यह पोस्‍ट सोशल मीडिया पर आते ही वायरल हो गई. अब तक, इसमें 1.15 लाख बार देखा जा चुका है और 600 से ज्‍यादा लोगो ने इसे लाइक किया है.

लोग तरह तरह के कमेंट कर रहे हैं. कुछ लोगों ने आर्मी कैंटीन में मिल रहे सामान सस्‍ते होने को अच्‍छा कदम बताया क्‍योंकि यह जवानों के लिए है. कुछ लोग सवाल कर रहे हैं. इस पर अनंत ने भी जवाब दिया.

उन्‍होंने लिखा कि सबको पता है कि जवानों को सस्‍ता सामान मिलता है. इस पर इतना हंगामा क्‍यों. एक यूजर ने कहा, हाहाहाहा, यह डीएसओआई मेन्‍यू जैसा लगता है.

अच्छा लगा! हमें बैंगलोर में 500 रुपए में एक किंगफिशर मिल जाता है. एक ने कहा, 60 एमएल के लिए अविश्वसनीय कीमतें, यह कहां है?” एक अन्य इंटरनेट यूजर से पूछताछ की.

WhatsApp Group Join Now
google news Follow On Google News Follow us