SB News

ये राशन कार्ड हैं तो! गेहूं-चावल के साथ मिलती है सस्‍ती चीनी, जानें पूरी जानकारी

देश में उपयोग किए जाने वाले वित्त का प्रकार पैन कार्ड की तरह है, वोट देने वालों के लिए मतदाता पहचान पत्र जैसे दस्तावेज हैं, जबकि कम आय और नाम वाले लोगों के लिए मुफ्त राशन कार्ड और रियायती राशन है। कोरोना काल से चल रही राशन कार्ड पर मुफ्त राशन योजना अभी भी चल रही है. लेकिन इस कार्ड पर लोगों को कई तरह से लाभ मिलता है. जिसके बारे में लोगों को कम ही जानकारी है।
 | 
न्यूज़

SB News Digital Desk,नई दिल्ली: राशन कार्ड के प्रकार कई होते हैं जिसमें सफेद कार्ड, लाल कार्ड और पीला कार्ड होते हैं। हालांकि राज्यों में अलग-अलग हो सकते हैं। इस जबरदस्त कार्ड पर सरकार एक महीने में सस्ती दरों पर 35 किलो अनाज देती है, जिसमें गेहूं या चावल के साथ-साथ चीनी भी सस्ती भी मिलती है। हम यहां पर बात कर रहे हैं, अंत्‍योदय राशन कार्ड के बारे में जिससे सरकार अंत्‍योदय अन्‍न योजना (Antyodaya Anna Yojana) के तहत अच्छा खासा लाभ प्रदान कर रही है।


 

इस योजना के नियम के अनुसार राशन कार्ड धारक को हर महीने एक परिवार को सस्‍ती दर पर 35 किलो अनाज में गेहूं या चावल के साथ चीनी भी दी जाती है, तो वही गेहूं दो रुपये किलो और चावल 3 रुपये किलो दिया जाता है। खास बात ये हैं समय-समय पर चीनी बाजार रेट से 18 रुपये कम कीमत सरकार के द्धारा प्रदान की जा रही है।

अगर आप अंत्‍योदय राशन कार्ड के लिए आवेदन करना चाहते हैं, तो इससे पहले पात्रता जान होगी, इसके बाद में आप आवेदन कर सकते है। अप्लाई करने के लिए अपने राज्‍य के खाद्य आपूर्ति विभाग से आवदेन फार्म का भरना होगा जिसमें मांग गए आधार कार्ड, पासपोर्ट साइज फोटो, निवास प्रमाण-पत्र, आय प्रमाण-पत्र जैसे जरुरी दस्तावेज को लगाकर इस फॉर्म को फार्म विभाग में जमा करा सकते हैं।

 

WhatsApp Group Join Now
google news Follow On Google News Follow us