SB News

RBI के नये नियम से लोन नही भरने वालो को मिलेगी बड़ी राहत, बैंकों को जारी की गाइडलाइन

 | 
news

SB News Digital Desk: वर्तमान समय में ज्यादातर लोग अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए बैंक से लोन लेते हैं। कई लोग होम लोन, कार लोन या पर्सनल लोन लेते हैं। अगर आपने भी किसी कार्य के लिए बैंक से लोन ले रखा है, तो भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के इस नियम को जानना चाहिए। आरबीआई का यह नियम आपको डिफॉल्टर होने से बचाएगा और लोन का ब्याज या ईएमआई भी कम करने में सहायता करेगा। 

क्रेडिट इंफोर्मेशन ब्यूरो इंडिया लिमिटेड’ (CIBIL)  लोगों के लोन या क्रेडिट कार्ड से खर्च करने की आदतों पर नजर रखता है। बीते साल एक रिपोर्ट आई थी, जिसमें चौंकाने वाला खुलासे हुए थे। इसमें कहा गया था कि लोगों में असुरक्षित लोन (क्रेडिट कार्ड से खर्च) लेने की आदत बढ़ रही है। पर्सनल लोन भी कोविड के पहले के स्तर से अधिक हो गया है। इस रिपोर्ट ने भारतीय रिजर्व बैंक को चेतावनी देने का काम किया है। 

 

कई लोग ऐसे हैं, जिन्हें लोन चुकाने में परेशानी हो रही थी। ऐसे लोगों को राहत देने के लिए आरबीआई की तरफ से कई गाइडलाइंस बनाई गई हैं। यह लोन डिफॉल्टर्स के लिए एक बड़ी राहत है, क्योंकि इसकी वजह से लोन चुकाने के लिए अधिक समय मिल जाता है। 

 

अगर आपने 10 लाख रुपये का लोन लिया है, लेकिन आप किसी वजह से उसे पूरा नहीं चुका पा रहे हैं। तो आप आरबीआई की गाइडलाइंस के अनुसार, लोन रीस्ट्रक्चर करवा सकते हैं। ऐसे में आपको 5 लाख रुपये तब देने पड़ेंगे और बाकी बचे पांच लाख रुपये को लंबी अवधि में धीरे-धीरे चुका सकते हैं। इससे आप पर ईएमआई का दबाव भी कम हो जाएगा। 

 

लोन का रीस्ट्रक्चर कराना कर्ज लेने वाले लोगों के लिए बेहतर विकल्प है। इसके आपके ऊपर से लोन डिफॉल्टर के टैग को हटाने का काम करता है।
 

 

WhatsApp Group Join Now
google news Follow On Google News Follow us