कारोबारी के घर मिला कुबेर का खजाना, नोट गिनते-गिनते मशीने भी हो गई खराब

 
टैक्स

SB News Digital Desk: कारोबारी के घर मिला कुबेर का खजाना, नोट गिनते-गिनते मशीने भी हो गई खराब उत्तरप्रदेश के कानपुर शहर में इनकम टैक्स की एक रेड ( (Income Tax Raid) ) काफी चर्चा में रही थी. इस रेड के दौरान नोट गिनते-गिनते इनकम टैक्स के अधिकार भी थक गए थे. आलम यह था कि नोट गिनने के लिए मशीनें मंगवाई गयी थी. इत्र कारोबारी पीयूष जैन (Piyush Jain) के घर हुई इस रेड के दौरान इनकम टैक्स के अधिकार भी दंग रह गए थे.

इत्र कारोबारी के घर जब इनकम टैक्स रेड पड़ी थी, तो उसके ठिकानों से इतना पैसा बरामद हुआ था कि नोट गिनने वाली कई मशीनें तक खराब हो गई थी. 3 से 4 दिन तक चली इस छापेमारी में डेढ़ सौ करोड़ से अधिक नगद और 23 किलो विदेशी सोने की बरामदगी हुई थी, जिसके बाद कारोबारी को जेल भी जाना पड़ा. अब इस मामले में कारोबारी पर पैनलिटी भी लगाई गई है.

 

कानपुर के इत्र कारोबारी पीयूष जैन जिनके कानपुर और कन्नौज के ठिकानों से 196 करोड़ रुपये नगद और 23 किलो सोना बरामद किया गया था. इस मामले में इत्र कारोबारी पर व उनकी फर्म पर 30 -30 लाख की पेनल्टी लगाई गई है. 23 किलो विदेशी सोना बरामद किए जाने के मामले में डायरेक्टर आफ रिवेन्यू इंटेलिजेंस ने कार्रवाई की थी. सीजेएम कोर्ट में यह जानकारी डीआरआई अधिकारियों ने दी.

 

इस प्रकरण में जेल गए पीयूष जैन को 254 दिन के बाद जमानत मिली जिसके बाद उन्हें जेल से रिहा किया गया. इस पूरे मामले में पीयूष जैन के खिलाफ जीएसटी कर अपवंचना डीजीजीआई व सोना तस्करी के लिए डीआरआई की ओर से दर्ज मामलों में सुनवाई हुई थी. इसी मामले में अब विभाग के द्वारा कार्यवाही करते हुए पीयूष जैन और उनकी फर्म पर पैनलिटी लगाई गई है. इस पूरे मामले पर फर्म के प्रोपराइटर कुछ भी कहने से बचते नजर आ रहे हैं और डायरेक्टर ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस केस कार्रवाई के बाद से हड़कंप मचा हुआ है.

To join us on WhatsApp Click Here and Join our channel on Telegram Click Here!